क्षेत्रीय

कोविड- 19 के संक्रमण की रोकथाम के लिये विभिन्न गांवो के जागरूक ग्रामीणों ने स्वप्रेरणा से गांवों की सीमा सील की

03/05/2021

-प्रेरक बना “मेरा गांव- मेरा घर- मेरी सुरक्षा- मेरी जिम्मेदारी” का नारा
नरसिंहपुर (ईएमएस)। कोरोना कर्फ्यू के दौरान कोविड- 19 के संक्रमण की रोकथाम के लिये अब ग्रामवासी भी अब आगे आ रहे हैं। वे मानते हैं कि “मेरे गांव में जब न कोई बाहर जायेगा, न कोई अंदर आयेगा तो कोरोना कहां से आयेगा”। इसको मूर्त रूप दिया है जिले की गाडरवारा तहसील व थाने के अंतर्गत्‍ आने वाले बरहेटा, बरेली, झांझनखेड़ा आदि के जागरूक ग्रामीणों ने। इसकी पहल की है पुलिस प्रशासन ने। इन ग्रामों के लोगों ने स्वप्रेरणा से अपने गांवों की सीमाऐं सील कर दी है। इसके लिये उन्होंने गांव के प्रवेश द्वार पर लकड़ी लगा कर मार्ग को बंद कर दिया है। उनके गांव से न कोई बाहर जा रहा है और न ही वे किसी को अंदर आने दे रहे है, ताकि कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सके। ग्रामीणों की जागरूकता को देखते हुये पुरूष प्रशासन भी ग्रामवासियों को भरपूर सहयोग दे रहा हैं। इन ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष पुलिस पेट्रोलिंग मोबाइल को भी चलाया जा रहा है। इसके माध्यम से लगातार भ्रमण कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के बारे में जागरूकता बढ़ाने के‍ लिये ग्राम कोटवार लगातार मुनादी भी कर रहे हैं।
पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव ने ग्रामों में संक्रमण की रोकथाम के लिए की सहयोग की अपील
पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव ने जिले के सभी ग्रामवासियों से अपील की है कि वे जिले में बढते कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिये लगाये गये कारोना कर्फ्यू को सफल बनाने में सहयोग दे। शासन प्रशासन की गाइडलाइन का कड़ाई से पालन करें। जिले के गाडरवारा थाना के अंतर्गत आने वाले ग्राम बरहेटा, बरेली, झांझनखेड़ा आदि ग्रामों के लोगों द्वारा स्वप्रेरणा से ग्राम की सीमाओं को सील करने की तरह संक्रमण की रोकथाम में अपना सहयोग प्रदान करें।
प्रवीण/ईएमएस/2021