राज्य समाचार

गंभीर बीमारियों के मरीज दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले का अवश्य लाभ उठायें : केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर

16/05/2022

मुरैना (ईएमएस)। देश की आजादी को 75 वर्ष पूर्ण हो रहें है। आजादी का अमृत महोत्सव देशभर में मनाया जा रहा है। अमृत महोत्सव के तहत गंभीर बीमारियों के मरीजों को स्वास्थ्य लाभ दिलाने के लिये दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें ग्वालियर एवं मुरैना के शासकीय एवं निजी चिकित्सकों द्वारा गंभीर बीमारियों का ईलाज किया जायेगा। यह बात केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने सोमवार को जिला चिकित्सालय के नवीन भवन के प्रांगण में दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले का शुभारंभ करते समय कही। इस अवसर पर प्रदेश के अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम के अध्यक्ष रघुराज सिंह कंषाना, ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष गिर्राज डंडोतिया, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. योगेशपाल गुप्ता, जिला पंचायत की अध्यक्षा श्रीमती गीता हर्षाना, पूर्व मंत्री रूस्तम सिंह, मुंशीलाल, पूर्व महापौर अशोक अर्गल, पूर्व विधायक शिवमंगल सिंह तोमर, पूर्व सभापति अनिल गोयल, नागेन्द्र तिवारी, कलेक्टर बी.कार्तिकेयन, पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी, जिला पंचायत के सीईओ रोशन कुमार सिंह, नगर निगम कमिश्नर संजीव कुमार जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राकेश शर्मा, सिविल सर्जन डॉ. विनोद गुप्ता सहित ग्वालियर के स्पेशलिस्ट डॉक्टर और मुरैना एवं ग्वालियर के निजी डॉक्टर्स भी मौजूद थे।
केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले में गंभीर बीमारियों से संबंधित 26 डॉक्टर्स उपस्थित रहकर अपनी सेवायें देंगे। जिसमें भोपाल से ह्रदय रोग विशेषज्ञ डॉ. आनंद यादव, ग्वालियर से डॉ. पुनीत रस्तोगी, डॉ. राम रावत, दुष्यंत देव, जीसी गौतम, हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. विपिन गर्ग, विकास सिंघल, न्यूरोलॉजिस्ट विशेषज्ञ डॉ. अनुग्रह दुबे, जितेन्द्र कंजोलिया, गौरव गोयल, कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. अमित अग्रवाल, चरम रोग विशेषण डॉ. दीपक शर्मा, दिव्या शुक्ला, त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रिया गौर, डॉ. मेगा ओमर, ईशा जैन, मूत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. रूस्तम सिंह, गुर्दा रोग विशेषज्ञ डॉ. अंकित गुप्ता, सर्जरी विशेषज्ञ डॉ. योगेश शर्मा, नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. सुनील शर्मा, मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. ऋषभ प्रताप सिंह यादव, प्लास्टिक सर्जरी विशेषज्ञ डॉ. मुकेश नरवरिया, नाक, कान, गला रोग विशेषज्ञ डॉ. दीपाशूं सिंघल, डॉ. राहुल अग्रवाल, आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. रामवीर शर्मा और होम्योपैथी चिकित्सक डॉ. केवी नागर उपस्थित रहकर अपनी सेवायें प्रदान करेंगे। मैं चाहता हूं कि मुरैना जिला गंभीर बीमारियों से रोग मुक्त हो, इसके लिये जो लोग गंभीर बीमारियों से पीड़ित है, वे अवश्य ईलाज करायें।
केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि सामान्यत: ऐसी ही कल्पना लोगों की रही और जब-जब यह परिस्थिति आई देश में सरकारों ने इसी प्रकार से उन सभी कार्यक्रमों का आयोजन किया। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब आजादी के अमृत महोत्सव को मनाने का निर्णय लिया। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि यह जो अमृत महोत्सव का अवसर है, यह अवसर जो हमारे संकल्प अधूरे हैं, उन्हें पूरा करेगा। इसके तहत यह स्वास्थ्य मेला मुरैना में लगाने का भी हमने निर्णय लिया था। उन्होंने कहा कि हमारा मुरैना नगर निगम होने के साथ-साथ 600 बिस्तर का अस्पताल बन गया है। इस समय हमारी स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी मौजूद हैं। जिले के कलेक्टर भी यहां उपस्थित हैं। मैं उनको यह कहना चाहता हूं अस्पताल का भवन तैयार है, सभी उपकरण आ गए हैं, सारे उपकरणों की एंट्री इस माह के अंत तक हो जाए और इस महीने के अंत में नई बिल्डिंग में अस्पताल चालू हो जाए। हम उद्घाटन करेंगे, इस प्रकार की सुविधा का लाभ मुरैना की आम जनता को मिलने लगेगा।
उन्होंने कहा कि पिछले दिनों आप सबको ध्यान होगा कि हमारे जिले में नेत्र शिविरों का आयोजन किया गया था। नेत्र शिविर में ढाई हजार लोगों को रोशनी देने का काम किया गया और मैं समझता हूं कि 8000 लोगों को आंखों का इलाज मिला। हम लोगों का संकल्प है कि आने वाले 2 वर्षों में बड़ी मात्रा में आंख के ऑपरेशन कराए जाएं और हमारा जिला अंधत्व निवारण की दृष्टि से भी राज्य में पहले नंबर पर आए।
इसके लिए जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग एवं संस्थाओं के माध्यम से लगातार यह प्रयत्न किया जा रहा है कि मुरैना के लोग 2003 से पहले के अस्पताल को भी भली-भांति जानते हैं, उसके बाद केन्द्र और प्रदेश सरकार ने लगातार पुराने अस्पतालों में सुधार किया और बड़ी मात्रा में चिकित्सा की सुविधा प्रदान की है। उन्होंने कहा कि संजीवनी केंद्रों का अभी भूमि पूजन संपन्न होने वाला है। 18 सड़कें मुरैना निगम में नई बनेंगी, इसके टेंडर हो गए हैं एवं भूमि पूजन हो जाएगा। 17 मई से कार्य प्रारंभ करने की दृष्टि से शुरू हो जायेगी।
अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम के अध्यक्ष रघुराज सिंह कंषाना ने कहा कि जो लोग पैसे के अभाव में अपना ईलाज ग्वालियर के अलावा अन्य बड़े शहरों में नहीं करा सकते है, उनके लिये चिकित्सक घर के द्वार आयें है। हम सभी की मंशा है कि वे लोग दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले में अपना ईलाज करायें और फिजूली डॉक्टर फीस देने से बचें। श्री कंषाना ने कहा कि हमने कोविड का दौर भी देखा है, उस संकट की घड़ी में ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं थी, किन्तु केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर के अथक प्रयासों से आज मुरैना में पर्याप्त ऑक्सीजन प्लांट लग चुके है और ऑक्सीजन सभी मरीजों को उपलब्ध करायी जा सकती है।
पूर्व मंत्री रूस्तम सिंह ने कहा कि पहला सुख निरोगी काया यह कहावत शत-प्रतिशत सही है। व्यक्ति को पहले अपने ईलाज पर ध्यान देना चाहिये, उसके बाद दूसरे कार्यो के प्रति सोचना चाहिये। प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले लगाया जा रहा है। इसमें डॉक्टर माने हुये बुलाये गये है, उनका लाभ अवश्य उठायें।
मुकेश शर्मा, 16 मई, 2022