ट्रेंडिंग

तमिलनाडु में भारी वर्षा, दीवार गिरने से 15 लोगों की मौत

02/12/2019

-स्कूल-कालेज बंद, मद्रास विवि और अन्ना विवि की परीक्षा टली
कोयंबटूर (ईएमएस)। तमिलनाडु के मेट्टुपलायम में भारी बारिश के कारण एक मकान की दीवार गिर गई, जिससे दब कर करीब 15 लोगों की मौत हो गई है। मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए बड़े पैमाने पर राहत और बचाव कार्य शुरु किया गया है। पुलिस ने बताया कि इस हादसे में 15 लोगों की मौत हुई है। तमिलनाडु और पुदुचेरी के कुछ हिस्सों में भारी बारिश अगले कुछ दिन जारी रह सकती है। पिछले कुछ दिनों से दोनों राज्यों के जारी वर्षा से सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ है। कई हिस्सों में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। निचले इलाकों में पानी भर गया है और चेन्नई सहित कई शहरों में स्कूल और कॉलेजों को बंद कर दिया गया है।
मौसम विभाग के मुताबिक हिंद महासागर के कोमोरिन के पास एक चक्रवात के बनने की वजह से तमिलनाडु के तटीय क्षेत्रों में भारी बारिश की उम्मीद है। बारिश से जुड़ी घटनाओं में तमिलनाडु के विभिन्न हिस्सों में कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई है। रविवार को उत्तर-पूर्व मानसून के कारण तमिलनाडु के कई हिस्सों और पड़ोसी पुडुचेरी में पिछले 24 घंटों में भारी बारिश हुई। चेन्नई में बारिश से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मौसम विभाग ने अगले दो दिनों में और बारिश होने का पुर्वानुमान जताया है। क्षेत्रीय चक्रवात चेतावनी केंद्र के निदेशक एन पुविरासन ने कहा ऊपरी वायु प्रवाह के कारण राज्य में भारी बारिश हुई है। उन्होंने कहा कि अगले 24-48 घंटे में हल्की से भारी बारिश होने की संभावना है। लेकिन रामनाथपुरम, तिरुनेलवेली, तूतीकोरिन, वेल्लोर, तिरुवल्लुर, तिरुवन्नमलाई जिलों में अगले 24 घंटों में भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है।
उन्होंने अरब सागर में दबाव का क्षेत्र बनने के कारण वायु गति बढ़ने की संभावना को देखते हुए मछुआरों को केप कोमोरिन और लक्षद्वीप क्षेत्र में समुद्र में न जाने की सलाह दी है। इस बीच चेन्नई शहर के पुलिस आयुक्त ए के विश्वनाथन ने चेन्नई में स्थिति का जायजा लिया और भारी वर्षा के बाद उपायों की समीक्षा की। विश्वनाथन ने मीडिया से कहा कि स्थित को देखते हुए सभी विभागों को सतर्क रहने के लिए कह दिया गया है।
मौसम विभाग ने अगले दो दिनों में और बारिश होने का पुर्वानुमान जताया है। तमिलनाडु और पुडुचेरी में अगले 48 घंटे तक भारी बारिश की आशंका के चलते कई जिलों में स्कूलों और कॉलेजों में सोमवार को छुट्टी की घोषणा कर दी गई है। मद्रास यूनिवर्सिटी और अन्ना यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं भी टाल दी गई हैं। क्षेत्रीय चक्रवात चेतावनी केंद्र के निदेशक एन पुविरासन ने कहा ऊपरी वायु प्रवाह के कारण राज्य में भारी बारिश हुई है। उन्होंने कहा कि अगले 24-48 घंटे में हल्की से भारी बारिश होने की संभावना है।
रामनाथपुरम, तिरुनेलवेली, तूतीकोरिन, वेल्लोर, तिरुवल्लुर, तिरुवन्नमलाई जिलों में अगले 24 घंटों में भारी वर्षा हो सकती है। उन्होंने अरब सागर में दबाव का क्षेत्र बनने के कारण वायु गति बढ़ने की संभावना को देखते हुए मछुआरों को केप कोमोरिन और लक्षद्वीप क्षेत्र में समुद्र में न जाने की सलाह दी है। इस बीच शहर के पुलिस आयुक्त ए के विश्वनाथन ने चेन्नई में स्थिति का जायजा लिया और भारी वर्षा के बाद उपायों की समीक्षा की। विश्वनाथन ने कहा स्थिति को देखते हुए सभी विभागों को सतर्क रहने के लिए कह दिया गया है। मौसम के बारे में जानकारी देते हुए क्षेत्रीय चक्रवात चेतावनी केंद्र के निदेशक एन पुविरासन ने रविवार को कहा था कि ऊपरी वायु प्रवाह के कारण राज्य में भारी बारिश हुई है।
अनिरुद्ध, ईएमएस, 02 दिसंबर 2019