ट्रेंडिंग

अफगानिस्तान और पाकिस्तान में 6.1 की तीव्रता का भूकंप, 900 से ज्यादा लोगों की मौत

22/06/2022

600 से ज्यादा लोग घायल
काबुल (ईएमएस)। भारत के पड़ोसी देश अफगानिस्तान और पाकिस्तान में बुधवार सुबह भूकंप आया। अफगानिस्तान में 6.1 की तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस हुए। रिपोर्ट के मुताबिक, भूकंप में 900 से ज्यादा लोगों की जान गई है, जबकि 600 से ज्यादा लोग घायल हैं। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के खोस्त शहर से 40 किलोमीटर दूर था। इसके अलावा पाकिस्तान और मलेशिया में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। इस भूकंप का असर 500 किलोमीटर तक के दायरे में था। इस वजह से अफगानिस्तान के साथ पाकिस्तान और भारत में भूकंप का झटके महसूस हुए।
तालिबान प्रशासन के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के प्रमुख मोहम्मद नसीम हक्कानी ने कहा कि अधिकांश मौतों की पुष्ट पड़ोसी प्रांत पक्तिका में हुई, जहां 100 लोग मारे गए और 500 घायल हुए। अफगान सरकार के प्रवक्ता बिलाल करीमी ने ट्वीट किया, दुर्भाग्य से, कल रात (स्थानीय समायानुसार) पक्तिका प्रांत के चार जिलों में भीषण भूकंप आया। जिसमें हमारे सैकड़ों देशवासी मारे गए और घायल हो गए और दर्जनों घर तबाह हुए। हम सभी इमरजेंसी एजेंसियों से अपील करते हैं कि आगे की तबाही को रोकने के लिए इलाके में टीमें भेज दे। पाकिस्तान में भी 6.1 तीव्रता का भूकंप आया। फिलहाल यहां जानमाल के नुकसान को लेकर कोई खबर नहीं है। बुधवार तड़के पाकिस्तान के पंजाब और खैबर पख्तूनख्वा के कुछ हिस्सों में 6.1 तीव्रता का भूकंप आया। भूकंप के झटके इस्लामाबाद, मुल्तान, भाकर, फलिया, पेशावर, मलकंद, स्वात, मियांवाली, पाकपट्टन और बुनेर समेत कई जगहों पर महसूस हुए। वहीं, नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक मलेशिया के कुछ हिस्सों में भी 5.1 तीव्रता का भूकंप आया। भूकंप का केंद्र राजधानी क्वालालंपुर से 561 किलोमीटर पश्चिम की तरफ था।
खोस्‍त में भारी तबाही की तस्‍वीरें सामने आ रही हैं। पाकिस्‍तान में भी खैबर पख्‍तूनख्‍वा प्रांत में एक व्‍यक्ति के मारे जाने की खबर है। बताया जा रहा है कि भूकंप से घर की छत गिर गई जिससे इस व्‍यक्ति की मौत हो गई। पाकिस्‍तानी समयानुसार सुबह 1:54 मिनट पर यह भूकंप आया था। पाकिस्‍तान में पेशावर, इस्‍लामाबाद, लाहौर और पंजाब तथा खैबर पख्‍तूनख्‍वा प्रांत के अन्‍य हिस्‍सों और भारत तक इस जोरदार भूकंप के झटके महसूस किए गए।
आशीष दुबे / 22 जून 2022