खेल

भारत-चीन विवाद के कारण बैडमिंटन भी हो रहा प्रभावित

15/09/2020

बेंगलुरु (ईएमएस)। भारत और चीन के बीच विवाद का असर बैडमिंटन पर भी पड़ रहा है। इसका कारण यह है कि भारत सरकार ने चीन से आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है जबकि बैडमिंटन के लिए शटल्स की आपूर्ति भी चीन के रास्ते से ही होती थी पर अब अब प्रतिबंध के कारण इनके स्टॉक में भारी कमी हो गई है। देश भर के बैडमिंटन खिलाड़ी यहां तक की नैशनल कैंप में अभ्यास करने वाले खिलाड़ी भी चीन की योनिक्स शटल्स का इस्तेमाल करते हैं जिसकी आपर्ति अब रुक गयी है। एक रिपोर्ट के अनुसार दुनिया भर में 90 फीसदी शटल्स की आपूर्ति चीनी कंपनियां ही करती हैं। इसका कारण यह है कि शटल के लिए जरूरी कच्चे सामान जैसे कि बत्तख के पंख का इंतजाम चीन में आसानी से हो जाता है। एक प्रकार से देखा जाये तो शटल के कारोबार पर चीन का एकाधिकार है हालांकि सरकार ने सभी फेदर (पंख) उत्पादों के चीन से आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है, ऐसे में शटल की आपूर्ति संभव नहीं दिख रही है। राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद ने भी स्वीकार किया है राष्ट्रीय शिविर में शटल की कमी हो रही है और अगर समय पर इंतजाम नहीं हो पाया तो खिलाड़ियों का अभ्यास बुरी तरह से प्रभावित होगी। राष्ट्रीय कोच ने कहा, 'हमें थॉमस ऐंड उबेर कप की तैयारी के लिए शटल्स नहीं मिली हैं। अगर हमें यह जल्दी ही नहीं मिली तो इससे हमारी ट्रेनिंग प्रभावित होगी।' इस समय देश भर में अकैडमी और ट्रेनिंग सेंटर अपने पुराने स्टॉक का ही इस्तेमाल कर रहे हैं जो तेजी से समाप्त हो रहा है।
गिरजा/ईएमएस 15सितंबर 2020