क्षेत्रीय

क्रमोन्नति बहाली की मांग को लेकर आजाद अध्यापक शिक्षक संघ ने.दिया ज्ञापन

14/01/2022

जौरा (ईएमएस)। नवीन शिक्षण संवर्ग को जुलाई 2018 व उसके बाद की रोकी गई क्रमोन्नति आदेश की बहाली के लिए शिक्षकों द्वारा ब्लॉक शिक्षा अधिकारी जौरा द्वारा श्री बी.के शर्मा जी को मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश शासन के नाम क्रमोन्नति आदेश की बहाली के लिए आज दिनांक 13/01 /2022 को ज्ञापन सौंपा विभाग के पत्र क्रमांक 27-7-2019 जो कि समस्त डीईओ को संबंधित है। जिस की कंडिका 3.2 के अनुसार ही पूरे प्रदेश में की गई है उक्त कंडिका में जुलाई 2018 व उसके बाद 12 वर्ष की सेवा पूर्ण करने पर नवीन शिक्षक संवर्ग को क्रमोन्नति की कार्यवाही किए जाने का स्पष्ट उल्लेख है। साथ ही क्रमोन्नति हेतु 12 वर्ष की सेवा की गणना के लिए संविदा शिक्षक की सेवा अवधि को भी गणना में लिए जाने का उदाहरण स्पष्ट उल्लेख है। लेकिन जिसे मध्यप्रदेश शासन ने बड़ी चतुराई के साथ स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत नवीन शैक्षणिक संवर्ग में नियुक्त किए गए लोक सेवकों को उनकी 12 वर्ष की सेवा दिनांक 1/07/ 2018 अथवा उसके बाद पूर्ण की गई है ।तो उन लोग सेवकों के क्रमोन्नति वेतनमान पर लोक शिक्षण आयुक्त के पत्र क्रमांक/ एन सी /एफ/ 16 /न.स/ 2021/428 भोपाल दिनांक 8/3/21 के द्वारा स्थगित करदिया गया है । आयुक्त द्वारा की गई यह कार्यवाही एकदम अनुचित व अन्याय पूर्ण है।पूर्व में शासन द्वारा जारी आदेश के विपरीत एवं शिक्षकों को निराशा करने वाली है। यह बात ज्ञापन देते समय आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष दिलीप त्यागी ने कही। दिलीप त्यागी ने कहा शिक्षकों को 15 वर्ष बीतने पर भी क्रमोन्नति का लाभ नहीं दिया जा रहा है ।जिससे शिक्षकों में सरकार के प्रति असंतोष व्याप्त है ।सरकार द्वारा शिक्षकों को लगातार आर्थिक छति पहुंचाई जा रही है ।शिक्षक अपने भविष्य को लेकर चिंतित है। शिक्षकों का धैर्य जवाब दे रहा है ।सरकार हमारी मांगों को लगातार अनसुना कर रही है ।कर्मचारियों की मांग है कि सरकार जल्द ही क्रमोन्नति के आदेश जारी करें ।यह हमारा वास्तविक अधिकार है ।मांग करने वालों में मुकेश त्यागी, हुकम सिंह धाकड़, विमल शर्मा ,िजतेंद्र त्यागी, इंतजार खान, राजेश त्यागी आदि शिक्षक उपस्थित थे।
मुकेश/14/01/2022