अंतरराष्ट्रीय

दवाओं के अत्यधिक सेवन हो रही ज्यादा मौतें

05/12/2018

-अमेरिका में हुए अध्ययन में खुलासा
न्यूर्याक (ईएमएस)। अमेरिका के राष्ट्रीय स्वास्थ्य सांख्यिकी केंद्र के इस अध्ययन में कहा गया है कि अधिक दवाएं लेने से होने वाली मौतों में साल 2016 की तुलना में 9,6 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। इस वजह से जीवन खोने वालों की संख्या बीते साल की तुलना में 70 हजार अधिक हो गई। अमेरिका में अत्यधिक सेवन और आत्महत्याओं के मामलों में इजाफा होने से आयु प्रत्याशा में गिरावट दर्ज की गई है। वहीं, अमेरिका में आत्महत्या के मामलों में 3,7 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इससे अमेरिकियों की औसत आयु में गिरावट आई है और औसत आयु साल 2016 की तुलना में 0,1 वर्ष कम होकर 78,6 साल हो गई है। ये आंकड़े ऐसे समय सामने आये हैं जब देश में दर्द निवारक दवाओं और अफीम आधारित दवाओं से बाजार भरा हुआ है, साथ ही कृत्रिम अफीम आधारित दवाएं और नशीले पदार्थ हेरोइन की भी उपलब्धता है। गौरतलब है कि पड़ोसी कनाडाई नागरिक अमेरिकियों की तुलना में तीन साल अधिक जीते हैं, जबकि विश्व में जापान के लोगों की औसत आयु सबसे अधिक करीब 84 साल है। आंकड़े दिखाते हैं कि पिछले कुछ साल में अमेरिका में आयु प्रत्याशा में गिरावट आई है। इस दशक में पहली बार साल 2015 में अधिक दवाएं लेना कम होती आयु प्रत्याशा की एक बड़ी वजह बना। कुल मिलाकर आयु प्रत्याशा में 2014 से गिरावट देखने को मिल रही है और अमेरिकी नागरिक जीवन के 0,3 साल खो चुके हैं।
सुदामा/ईएमएस 05 दिसंबर 2018