क्षेत्रीय

पीड़िता ने अपने पति के साथ एसडीओपी चांचौड़ा से की शिकायत

06/08/2020

गुना (ईएमएस)। जिले के मृगवास थानांतर्गत ग्राम गोमुख में एक महिला को उसके पिता और मामा द्वारा नातरा विवाह कुप्रथा के तहत बेचने का मामला सामने आया है। महिला ने अपने पति एवं अन्य परिजनों के साथ एसडीओपी चांचौड़ा को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है। दरअसल मामले के अनुसार वर्ष 2016 में फरियादी के पिता द्वारा उसे बेचने के प्रयास में वह घर से भागकर इंदौर चली गई। यहां से वह राजस्थान के कोटा में रहकर मेहनत मजदूरी कर पेट भरने लगी। इसी दौरान उसने यहां घीसालाल भील से प्रेम विवाह कर लिया। जिससे इन दोनों की एक संतान है। जब इसकी जानकारी पीडि़ता के पिता और भाई को लगा तो वह महिला को लेने पहुंच गए और उसे जबरन वापस लाने लगे। इस दौरान उन्होंने उसके पति से डेढ़ लाख रुपए लेकर चले गए। कुछ समय बाद उसके पिता,मामा और भाई फिर से उसे जबरजस्ती अपने घर ले आए और यहां उन्होंने ढाई लाख रुपए में आवल हैड़ा गांव में सुल्तान नामक व्यक्ति को उसे बेच दिया। यहां उक्त व्यक्ति द्वारा उसके साथ दुष्कर्म किया गया। लगभग 15 दिन के बाद महिला जैसे-तैसे वहां से भागने में सफल हुई और अपने पति के पास आ गई। लेकिन उसके बाद भी अभी तक उसके मामा, पिता और भाई उसको परेशान कर रहे हैं और दूसरी जगह बेचने की कोशिश में लगे हुए हैं। गुरुवार को पीडि़त परिवार ने एसडीओपी चांचौड़ा को आवेदन देकर परिवार को सुरक्षा देने एवं आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की।
इस दौरान महिला ने फरियाद लगाते हुए कहा कि साहब मुझे मेरे पिता, भाई और मामा से बचाओ। मुझे मेरे पिता और मामा ने ढाई लाख रुपए में बेच दिया है। मैं अपने पति के साथ रहना चाहती हूं, लेकिन घर परिवार वाले परेशान कर रहे हैं। वही महिला के पति घीसा लाल ने बताया कि मैं एक बार डेढ़ लाख रुपए और दूसरी बार ढाई लाख रुपए इनके पिता और मामा को दे चुका हूं। फिर भी बार-बार हम से पैसे मांगते हैं और जान से मारने की धमकी देते हैं। इसकी शिकायत हमने मृगवास थाने में कई बार की, लेकिन पुलिस ने हमारी कोई मदद नहीं की। हमने एसडीओपी चांचौड़ा को भी शिकायत की है।
सुशील जैन/ 06 अगस्त 2020