ज़रा हटके

ऑनलाइन गेमिंग सेगमेंट में 21 फीसदी की ग्रोंथ

20/06/2021

-करीब 29 हजार करोड़ रुपये का होगा बिजनेस
नई दिल्ली (ईएमएस)। केपीएमजी की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में ऑनलाइन गेमिंग सेगमेंट में आने वाले सालों में 2021 से 2025 के बीच 21 फीसदी की ग्रोंथ होगी। जो करीब 29 हजार करोड़ रुपये का बिजनेस होगा। आइए जानते है आप कैसे स्टार्टअप के तौर पर ऑनलाइन गेमिंग के बिजनेस में एंट्री कर सकते हैं।
केपीएमजी की रिपोर्ट के अनुसार 2011 में भारत में 13 हजार 600 करोड़ रुपये का ऑनलाइन बिजनेस का कारोबार था। रिपोर्ट मे बताया गया है कि, इस कारोबार में ऑनलाइन कैजुअल गेमिंग सेंगमेंट सबसे महत्वपूर्ण है, जिसका राजस्व 44 प्रतिशत के साथ 6 हजार करोड रुपये का है। उपयोगर्ताओं के संदर्भ में 42 करोड़ गेम खेलने वालों के साथ ऑनलाइन कैजुअल गैमिंग सेगमेंट में पिछले 10 साल के कुल गेमर्स का 97 फीसदी हिस्सा रहा। वहीं रिपोर्ट में बताया गया है कि, 2025 तक ऐसी ही हिस्सेदारी बनी रखने के आसार है। रिपोर्ट्स के अनुसार पहले गेमर्स स्मार्टफोन के जरिए गेम खेलते थे, लेकिन अब बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए गेमर्स डेस्कटॉप, लैपटॉप और बड़ी स्क्रीन वाले टीवी की ओर रुख कर रहे हैं। इसमें उन्हें बढ़िया ग्राफिक्स, बड़ी स्क्रीन, बेहतर साउंड क्वालिटी और ईजी कंट्रोल मिलता है।
पॉपुलर कंप्यूटर मेकर कंपनी एचपी ने 25 शहरों में 15-40 साल की उम्र के 1500 लोगों से बात की। जिसमें पता चला कि बहुत से लोग गेम को सिर्फ लॉकडाउन ही नहीं बल्कि लंबे समय के लिए अपना रहे हैं। साथ ही ये सामने आया है कि ऑनलाइन गेम के इस बढ़ते चलन की वजह से कंप्यूटर की डिमांड भी बढ़ गई है। अगर आप भी ऑनलाइन गेमिंग के बढ़ते बिजनेस का फायदा उठाना चाहते हैं। तो आपको स्मार्टफोन और कम्प्यूटर के बिजनेस में उतरना चाहिए। क्योंकि ऑनलाइन गेम इन दोनों ही डिवाइज के बिना खेले नहीं जा सकता। ऐसे में आप इस ऑनलाइन बिजनेस का फायदा आसानी से उठा सकते हैं। बता दें ‎कि वर्क फॉर होम और ऑनलाइन स्कूल के चलते ज्यादातर लोग घरों में रह रहे हैं। जिसके चलते ऑनलाइन बिजनेस में तेजी से ग्रोंथ हो रही है। लोग ऑनलाइन काम कर रहे है और बच्चे ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे है। ठीक इसी के बीच में ऑनलाइन गेम का बाजार भी तेजी से फलफूल रहा है।
सुदामा/ईएमएस 20 जून 2021