क्षेत्रीय

शिक्षकों ने फूंका प्रेरणा एप का पुतलाः महासंघ के बैनर तले साझा संघर्ष की बनायी रणनीति

11/09/2019

बस्ती (ईएमएस)। प्रेरणा एप का विरोध लगातार बढता ही जा रहा है। बुधवार को उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ पदाधिकारियों ने जिलाध्यक्ष चन्द्रिका सिंह, जिला मंत्री बाल कृष्ण ओझा के निर्देश पर ब्लाक स्तर पर प्रेरणा एप का पुतला फूंका। सरकार से मांग किया कि शिक्षकों पर अविश्वास करने वाले इस मौलिक अधिकार का हनन करने वाले फैसले को सरकार वापस ले। इसी क्रम में शिक्षक समस्याओं के समाधान हेतु सामूहिक साझा संघर्ष का निर्णय लिया गया। इस क्रम में उत्तर प्रदेश शिक्षक महासंघ की बैठक देर शाम कलेक्टेªट स्थित राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद कार्यालय पर महासंघ अध्यक्ष चन्द्रिका सिंह की अध्यक्षता में हुई।
बैठक के बाद शिक्षकों के प्रतिनिधि मण्डल ने उप जिलाधिकारी सदर को आगामी 12 सितम्बर से बीएसए कार्यालय पर आयोजित होने वाले दो दिवसीय धरने के सम्बन्ध में पत्र सौंपा।
निर्णय लिया गया कि परिषदीय शिक्षकों के साथ ही माध्यमिक, सीनियर बेसिक, संस्कृत, मदरसों के शिक्षक एकजुट होकर प्रेरणा एप सहित अन्य बुनियादी सवालों को लेकर सामूूहिक रूप से संघर्ष की धार को तेज करंेगे। शिक्षकों ने बैठक में इस बात को लेकर नाराजगी जतायी की सत्ता में बैठे लोग शिक्षक समस्याओं को हल करने की जगह हठवादिता का परिचय दे रहे हैं जबकि लोकतंत्र संवाद से चलता है, विवाद से नहीं। सम्बंधित सत्ता पक्ष के लोग भाषा की मर्यादा न तोड़े।
विविध कार्यक्रमों में शिवपाल सिहं, ओंकार सिंह, श्रवण सिंह, दुर्गेश यादव, शिवशंकर पाण्डेय, धीरेन्द्र प्रताप, शिव प्रकाश सिंह, पवन कुमार शुक्ल, विनय पाठक, सुधीर तिवारी, मनोज उपाध्याय, अशोक यादव, शिवरतन, देवेन्द्र प्रताप सिंह, कुलदीप सिंह, सनद पटेल, प्रताप नारायण चौधरी, रवि सिंह, उमाकान्त शुक्ल, राजेश गिरी, सन्तोष मिश्र, डा. प्रमोद सिंह, वंदना त्रिपाठी, गिरीश चन्द्र चतुर्वेदी, धर्मराज चौधरी के साथ ही अनेक शिक्षक और संघ पदाधिकारी शामिल रहे।
प्रवीण/11/09/2019