राज्य समाचार

राजधानी में मनाया गया बकरीद पर्व

01/08/2020


- मुस्लिम धर्मावलंबियों ने दी राजधानीवासियों को मुबारकबाद
भोपाल(ईएमएस)। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में शनिवार एक अगस्त को मुस्लिम समाज का बकरीद पर्व मनाया गया। ईद की नमाज लोगों ने सुबह 7 से 9बजे अपने-अपने घरों में अदा की। वहीं सरकारी गाइडलाइन के अनुसार ईदगाह, मस्जिदों में पांच धर्मावलंबियों के द्वारा नमाज अदा की गई। इसके बाद धार्मिक रीति-रिवाजों के साथ कुर्बानी का दौर चला।
आपकों बता दें कि रमजान माह की ईद के दो माह बाद बकरीद का पर्व मनाया जाता है। यह पर्व मुस्लिम समाज धार्मिक रीति रिवाजों के साथ मनाता है। पर्व के बारे में मान्यता है कि अल्लाह ने इब्राहिम अले सलाम को हुक्म दिया था कि अपनी सबसे अजीज चीज कुर्बान करो। उनके लिए सबसे अजीज उनका बेटा था। जिनका नाम इस्माइल अले सलाम था। इनको कुर्बान करने पहाड़ पर ले जाया गया। जैसे ही इनकी कुर्बानी करने के लिए छुरी गर्दन पर रखी तो बेटे ने कहा कि अब्बा आप अपनी आंखों पर पट्टी बांध लो, कहीं ऐसा न हो कि आपको मुझपर दया आ जाये और आप अल्लाह के हुक्म को पूरा न कर पाओ। उन्होंने ने ऐसा ही किया। जैसे ही ज़ुबा करने के लिए छुरी गर्दन पर रखी , अल्लाह ने फौरन जिबराइल अले सलाम को हुक्म दिया कि जो फऱिश्ते हैं जाओ और इस्माइल को हटा दो और उसकी जगह पर भेड़( दुंबा) को रख दो। इसके बाद भेड़ की कुर्बानी हो गई। तभी से मुस्लिम समाज में कुर्बानी का पर्व बकरीद मनाया जाने लगा। आज शनिवार को राजधानी भोपाल में ईदगाह, मस्जिदों और घरों में बकरीद की नमाज अदा की गई। इसके बाद मुस्लिम धर्मावलंबियों के द्वारा धार्मिक रीत -रिवाजों के अनुसार जानवरों की कुर्बानी दी गई। उक्त मौके पर सभी ने अपने सगे संबंधियों, परिजनों और मिलने वालों को बकरीद की मुबारकबाद दी। यह सिलसिला सुबह से लेकर देर शाम तक चलता रहा।
राकेश दुबे/ 01 अगस्त2020
-----------