क्षेत्रीय

हेल्थ सेंटर पर मरीजों को मिल रही आवश्यक सुविधाएं : डॉ रामजी वर्मा

23/06/2022

कायाकल्प अवार्ड के लिए चयनित हुए 14 पीएचसी व 9 हेल्थ सेंटर
बाराबंकी (ईएमएस) । हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर (एचडब्ल्यूसी) के माध्यम से लोगों को घर के नजदीक ही स्वास्थ्य सेवाएं मिल रही है। जिले के 14 पीएचसी एवं 9 हेल्थ व वेलनेस सेंटर को इस बार कायाकल्प अवार्ड के लिए चुना गया है। देवा ब्लाक के पीएचसी मित्तई जिले में पहला स्थान मिला है। उसे पुरस्कार स्वरुप 2 लाख रुपये मिलेंगे। वहीं मसौली ब्लॉक के प्यारेपुर हेल्थ वेलनेस सेन्टर को प्रथम स्थान के रूप में एक लाख रूपया मिलेगा। पुरस्कार में मिली राशि का इस्तेमाल वहां स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी के लिए किया जाएगा। जबकि इसी में पच्चीस फीसदी राशि स्टाफ को प्रोत्साहन स्वरूप दी जाएगी। सीएमओ डा रामजी वर्मा ने बताया कि वर्तमान में जिले में 52 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र है। तो वहीं 277 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर संचालित हैं, जहां पर सीएचओ (कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर) की तैनाती की गई है। यह सीएचओ वहां आने वाले मरीजों का बीपी, शुगर आदि स्वास्थ्य संबंधित जांच के लिए पूरी तरह प्रशिक्षित हैं। चिकित्सक से ऑनलाइन परामर्श हासिल कर यह सीएचओ मरीज को वेलनेस सेंटर से ही दवा उपलब्ध कराती हैं। नॉन कम्युनिकेबल डिजीज के मामले में यह सीएचओ ग्रामीणों का हेल्थ कार्ड तैयार करती हैं। शुगर, बीपी, कैंसर के मरीज को चिन्ह्ति कर उनके इलाज का प्रबंध कराती हैं। मरीज को एक छत के नीचे आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं। जिला क्वालिटी एश्योरेंस कंसल्टेंट डॉ. विनय कुमार मौर्या ने बताया कि कायाकल्प अवार्ड के लिए चयनित वेलनेस सेंटर में बॉयोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट, इंफेक्शन कंट्रोल, सपोर्ट र्सिवसेज, स्वच्छता आदि सहित कुल 120 बिंदुओं पर बाहर की टीम ने एसेस्मेंट किया था। उन्होंने बताया कि ब्लाक मसौली के प्यारेपुर सरैया हेल्थ वेलनेस सेंटर को प्रथम स्थान पर एक लाख रूपया मिलेगा। साथ ही मसौली के सुर्यापुर को दूसरे स्थान के रूप में 50 हजार, हैदरगढ के नयपुरा को तीसरे स्थान में 35 हजार तथा अन्य सभी को 25 हजार रुपए का इनाम मिलेगा।
यह पीएचसी हुई चयनित
मित्तई, कुसब, गाजीपुर, सैदनपुर, कोटवा सादक, दादरा, टीकारमन, टीडोला, टिडौंला, रेंदुवा पल्हरी, थलवरा, खेता सराय, सराय गोपी, उधौली सहित एक अर्बन की मालगोदम पीएचसी चयनित हुई हैं।
पीएचसी प्रभारी की रंग लाई मेहनत
ब्लाक देवा के मित्तई में संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को स्वास्थ्य विभाग में एक नजीर के तौर पर पेश किया जाता है। यहां पर पीएचसी प्रभारी के रूप में तैनात डा प्रमोद कुमार सिंह की मेहनत का परिणाम रहा कि इस केन्द्र को जिले में पहला स्थान मिला है। मित्तई आदर्श पीएचसी न होते हुए भी यह सम्पूर्ण पीएचसी के रूप में अपनी भूमिका का एहसास लोगों को सुविधा देकर करा रही है। पीएचसी पर कार्य दिवस में प्रतिदिन सुबह से शाम तक करीब 100 से ऊपर मरीज आते है। यहां 52 गांव के लोग इलाज के लिए आते है। इस केन्द्र को हर्बल गार्डन के रूप में विकसित किया गया है। यहां मरीजो की सुविधा के लिए एक एबूलेन्स भी अर्लट किया गया है। साथ ही परिवार नियोजन से संबंधित सामग्री भी उपलब्ध है।
शमीम अंसारी/23जून2022