अंतरराष्ट्रीय

पीओके पर जयशंकर के बयान को पाक ने बताया भड़काऊ, कहा अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ले संज्ञान

18/09/2019


इस्लामाबाद (ईएमएस)। विदेश मंत्री एस जयशंकर के पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) को भारत का हिस्सा बताए जाने वाले बयान पर पाकिस्तान ने गहरी आपत्ति जताई है। पाक विदेश मंत्रालय ने कहा भारतीय विदेश मंत्री का यह बयान द्विपक्षीय संबंधों में जहर घोलने वाला है। भारतीय नेताओं के ऐसे बयानों से दक्षिण एशिया की शांति भंग हो सकती है। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दो दिन पहले अपने बयान में कहा था कि एक दिन पीओके भी अंतत: भारत में मिल जाएगा। एस जयशंकर के इस बयान पर गंभीर आपत्ति जताते हुए पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय का आह्वान किया कि वह भारतीय विदेश मंत्री के बयान का संज्ञान ले।
पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से कहा कि भारत नेताओं के इस तरह के ‘गैर जिम्मेदाराना और उग्र’ बयानों से क्षेत्र में तनाव और बढ़ेगा। उसने चेतावनी दी थी कि ऐसे बयानों से क्षेत्र में शांति और सुरक्षा को खतरा पैदा हो सकता है। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पाकिस्तान और पीओके पर बात करते हुए कहा था कि आतंकवाद रोके बिना पाक से बात नहीं की जा सकती। आगे जम्मू-कश्मीर से आर्टकिल-370 हटाने को आतंरिक मुद्दा बताते हुए जयशंकर ने कहा पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) हमारा है और हमें उम्मीद है कि एक दिन वह भारत का हिस्सा होगा।
जयशंकर के बयान पर प्रतिक्रिया करते हुए पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कहा हम पाकिस्तान और पीओके के बारे में भारतीय विदेश मंत्री द्वारा दिए गए भड़काऊ और गैरजिम्मेदाराना बयानों की कड़ी निंदा करते हैं। बयान में कहा गया कि पाकिस्तान शांति के लिए खड़ा है, लेकिन किसी भी तरह की आक्रामकता का कड़ा जवाब देने के लिए तैयार रहेगा।
अनिरुद्ध, ईएमएस, 18 सितंबर 2019