अंतरराष्ट्रीय


3000 किलोमीटर दूर बैठे डॉक्टर ने की दिमाग का ऑपरेशन

5G नेटवर्क के कारण साफ-साफ देख पाए डॉक्टर बीजिंग (ईएमएस)। चीन के एक डॉक्टर ने 3000 किलोमीटर दूर से बैठकर पार्किसन नामक बीमारी से ग्रस्त मरीज के दिमाग की सर्जरी करके एक नया रिकॉर्ड बनाया है। डॉक्टर ने रोबोट की मदद से इस सर्जरी को 5G मोबाइल नेटवर्क के माध्यम से मरीज का ऑपरेशन किया है। यह दुनिया की पहली सर्जरी है। यह मरीज बीजिंग के एक अस्पताल में भर्ती था। सर्जरी करने वाले डॉक्टर लिंग झेपई 3000 किलोमीटर दूर हेनान प्रांत के सान्या शहर में मौजूद थे । डॉ छिपेई ने सान्या से ही रोबोट और मशीनों को नियंत्रित करते हुए बीजिंग के ऑपरेशन थियेटर पर इस मरीज का ऑपरेशन किया। इस ऑपरेशन को सफल करने में 5G नेटवर्क की भूमिका अति महत्वपूर्ण रही। इंटरनेट पर रियल टाइम स्पीड मिलने के कारण यह ऑपरेशन संभव हो सका। 5G नेटवर्क की सहायता से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए रिमोट और कंट्रोल जैसी सुविधाओं का इस्तेमाल करते हुए, दिमाग की सर्जरी करने का हौसला डॉक्टर का बना। 5G तकनीकी आ जाने के बाद दूरदराज के मरीजों को और अन्य देशों में बैठे हुए विशेषज्ञ डाक्टरों के माध्यम से अब जटिल से जटिल ऑपरेशन भी संभव हो सकेंगे। तकनीकी मानव कल्याण के लिए यह बहुत बड़ी सफलता है। एसजे/सोनी/19मार्च2019 ...