भारतीय पब्लिक सर्च इंजन

ई-सेवा (Links)

(नई दिल्ली ) ये मेरा आखिरी विश्वकप हो सकता है : मिताली

img

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज ने मिताली ने कहा है कि यह उनका अंतिम विश्वकप हो सकता है। इसी लिए वह टीम के सेमीफाइनल में पहुंचने से बेहद खुश हैं। मिताली ने कहा कि टीम की सभी खिलाडि़यों ने ने शानदार खेल दिखाया है जिससे टीम यहां तक पहुंची है। मिताली ने कहा कि अपने देश के लिए रन बनाने में मुझे बेहद खुशी मिलती है। मैं अपनी टीम के लिए और अच्छा प्रदर्शन करना चाहती हूं और बहुत सारे रन भी बनाना चाहती हूं।
आईसीसी महिला विश्व कप में एक हजार रन पूरे करने वाली पांचवी बल्लेबाज बनी मिताली ने  गई हैं। अब तक केवल 5 बल्लेबाज ही महिला विश्व कप में 1000 रन का आंकड़ा हासिल कर पाई हैं। इस लिस्ट में न्यूजीलैंड की डेबी हेकले (1501), इंग्लैंड की जेनेट ब्रिटिन (1299), चार्लोट एडवर्ड्स (1231) और ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क(1151) शामिल हैं। मिताली ने इसके साथ ही अर्धशतकों का अर्धशतकों भी बनाया है। इसी के साथ वह महिला क्रिकेट में यह उपलब्धि हासिल करने वाली दूसरी क्रिकेटर बन गयी हैं।  वहीं इंग्लैंड की चार्लोट एडवर्ड्स (46) अर्धशतकों के साथ दूसरे स्थान पर हैं।
गिरजा/17जुलाई/3:06
 

Admin | Jul 17, 2017 16:25 PM IST
 

Comments